इतिहास

   
       

        लुनवा नगर अरवली श्रंखलावो के निचले भाग मे स्थित है| फालन रेल्वे स्टेशन से १६ किलोमीटर दूर पुर्व मे है| यह माना जाता है कि ६०० साल पहले लुनव गाव अरावली श्रंखलावो से सिर्फ १ किलोमीटर कि दुरी पर स्तित था| लुनव गाव की आबादी लगभग १७०३६ है| यहा पर जैन समाज के ६५० घर है|


     
             हम अपने जैन मंदिरो मे सम्रध्द है | श्री आदेश्र्वर भगवान मंदिर, श्री पदमप्रभु स्वामी मंदिर,श्री शान्तीनाथजी जैन मंदिर,श्री वासू पुज्य स्वामी जैन मंदिर और दादावाणी |

श्री नागेश्वर पार्श्वनाथ जीनालया भद्क नगर का पस्चिमी दवार हमारे गाव से सिर्फ १.५ क .म की दुरी पर है | हमारे पास शवीक उपाश्र्य और आन्बील भवन है |







Copyright © 2008 Lunawa Gaon               |        Website Designed & Maintained by Impaq Technologies Pvt Ltd.